The State of Chhattisgarh is known as rice bowl of India and follows a rich tradition of food culture .The Food preparation falls in different categories . Most of the traditional and tribe foods are made by rice and rice flour , curd(number of veg kadis) and variety of leaves like lal bhaji,chech bhaji ,kohda , bohar bhaji. Badi and Bijori are optional food categories also Gulgula ,pidiya ,dhoodh fara,balooshahi ,khurmi falls in sweet categories.

Jai Sai Baba

Search More Recipes

FlipKart Offers!!

Buy Online with Discount

Wednesday, November 23, 2016

jackfruit /कटहल

Jackfruit preparation
Ingredients: jackfruit pieces,potatoes,oil,onion,tomato,garlic,ginger,oil,salt, turmeric powder, chilli powder, coriander powder,water,coriander leaf(otional)


peel off the outer green spiky cover. Now chop into big equal pieces .


wash 1-2 potatoes(optional) and cut into equal 4 pieces .

Take 3-4 table spoon of oil in the pan and heat it . 


semi fry or deep fry both the vegetable together for 1-2 min . 




 Take oil in a pan and put 1-2 table spoon of  ginger garlic paste .
Add fine chopped (or grinded onion) .cook in slow flame until onion turns brown .

Now add fine chopped tomatoes and let the mix cook some more time , add salt, turmeric powder, chilli powder, coriander powder, and cook the mixture 1 more minute. 

Now add  fried jackfruit  and potato with the onion tomato mix, cover the pan and cook it some more time.

Open the cover and  mix 300-400 ml of hot water in it. Let the water boil and now transfer whole material into the cooker and let it whistle for 5-6 times . Hot tangy jack fruit is ready to serve with steamed rice.

Note : Jack fruit is eaten in everywhere in  india .The richness,texture & preparation of the vegetable is considered as nonveg of vegetarian. The jackfruit is highly fibrous and content good source of energy .


jackfruit /कटहल


सबसे पहले २०० ग्राम कटहल को छीलकर  बड़े टुकड़ों  में काट लीजिये।  उसी तरह २-४ आलू लेकर छीलकर बड़े टुकड़ों में काटें।  अब एक कड़ाई में तेल लेकर दोनों को तल लें।  अब  एक दूसरी कड़ाई या सीधे कुकर में तेल डालें और गरम होने दें ।  जब अछि तह इ गरम हो जाये तोह उसमें कटे  या पिसे प्याज़ को डालें साथ ही लहसून अदरक का पेस्ट डालें और भूरा होने तक अच्छी  तरह भूने।  अब उसमें बारीक़  कटे टमाटर या फिर  टमाटर का पेस्ट डालें।  और फिर से भूने जब तक पेस्ट के ऊपर  तेल न दिखाई देने लगे। भुने पेस्ट में नमक,पिसी हल्दी,पिसी धनिया,पिसी  मिर्च  डालकर थोड़ा और भूने।  अब तले हुए कटहल और आलू के टुकड़ों को उसमें मिलकर अच्छे से मसालों के साथ मिलाएं। और ढक कर   पकने दें। एक बरतन में  १०० -२०० मि ली पानी कुनकुना गरम करें और ढक्कन को खोल कर सब्जी में मिलाएं और एक उबाल तक पकाने दें. अब कुकर का ढक्कन बंद करें और ५-६  सिटी होने दें।  जब कुकर खोलें  सब्जी में कटा धनिया और जीरा पाउडर डालकर चलाएं।  गरमा गरम कटहल की सब्जी चांवल के साथ खाएं। 

टिपण्णी : कटहल को बहुत  स्वाद से खाया जाता है।  और इसे शाकाहारियों का चिकन भी कहा जाता है।  कटहल  फाइबर और  ऊर्जा का अच्छा स्त्रोत है  और इसकी तासीर  ठंडी होने के  कारण गर्मियों में इसके  
बीजो को फल की तरह  खाया जाता है।


No comments :

Post a Comment