The State of Chhattisgarh is known as rice bowl of India and follows a rich tradition of food culture .The Food preparation falls in different categories . Most of the traditional and tribe foods are made by rice and rice flour , curd(number of veg kadis) and variety of leaves like lal bhaji,chech bhaji ,kohda , bohar bhaji. Badi and Bijori are optional food categories also Gulgula ,pidiya ,dhoodh fara,balooshahi ,khurmi falls in sweet categories.

Jai Sai Baba

Search More Recipes

FlipKart Offers!!

Buy Online with Discount

Sunday, September 11, 2016

Tomato chutney /jhojho/phatka/Sweet chatney फ्तका/झोझो/पताल चटनी/मीठी टमाटर चटनी


 
There are different varieties of tomato chutneys known in Chhattisgarh, some of them are :

 
1. Phatka :
Wash & Cut the tomatoes in small pieces.
Heat the oil in a pan .Season with mustard seeds ,garlic cloves, curry leaves,green chilies
Add salt ,termeric powder,coriander powder cook them for sometime.
Add tomato pieces in it and cook until it gets dry .
This chutney is called phatka.

 2.Jhojho:
When you add lot of water in above first preparation (phatka) and cook for some time more time, it is   called jhojho.

 
3. Sweet Tomato chutney:
Prepare Phatka (refer no 1) ,In that preparation the quantity of salt would be less and  *sugar or jiggery would be more .Let it  cook for 2-3 minutes.

4.Patal chatney:
Roast the tomatos directly on the flame or wood.Peel it and mix with salt, galic,ginger,coriander leaves and grind them together. This chutney can increase taste of your meal.
 
छत्तीसगढ़ में टमाटर की चटनी को कई तरह से बनाया जाता है। 
 
१. फ्तका :
३-४ टमाटर को धो कर छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें। 
गैस पर कड़ाई में तेल  गरम करें। अब सरसों के दाने ,मीठी नीम पत्ती ,लहसून के टुकड़े,हरी मिर्च  डाल कर तड़का दें। 
इसमें,नमक,पिसी हल्दी ,पिसा धनिया डालें। और थोड़े देर पकाये। 
अब टमाटर के टुकड़ों को डालें और अच्छे से मिलाकर ढांक कर पकाएं। जब थोड़ा सूख जाए तोह पकाना बंद कर दें। 
"फ्तका" तैयार है और गरमा गर्म चांवल के साथ खा सकते हैं। 
 
२. झोझो :
जब आप फ्तका बना कर उसमें ज्यादा पानी डाल थोड़ी देर तक पकाएं। टमाटर चटनी के तरल रूप को झोझो कहा जाता है।
 
३. मीठी टमाटर चटनी: 
जब फ्तका चटनी में नमक  की मात्रा कम डाल ,शक्कर या गुड़ की मात्रा ज्यादा डाल कर २ मिनिट तक पकाएं। 
 
४. पताल चटनी :
टमाटर को सीधे अंगार पर भूने। भूनने के बाद ठंडा करके  ऊपर के छिलके को निकाल  लें। अब नमक,हरी धनिया,लहसून,अदरक ,मिर्च के साथ पीस लें। यह चटनी आपके खाने के स्वाद को कई गुना बढ़ा सकती है। 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

No comments :

Post a Comment